विश्व दलहन दिवस 2024: थीम, महत्व और इतिहास

वर्ष 2016 में जब दलहन के लिए अंतर्राष्ट्रीय वर्ष मनाया गया था, तब इसके लिए एक थीम का चुनाव किया गया था और तभी से इस दिन को हर साल एक नई थीम के साथ मनाया जा रहा है। इस साल 2024 में विश्व दलहन दिवस की थीम “दालें: पौष्टिक मिट्टी और लोगों” (Pulses: nourishing soils and people) रखी गई है। इस थीम का मतलब होता हैं स्वस्थ मिट्टी और लोगों की कुंजी के रूप में दालों के बारे में जागरूकता बढ़ाना।


Agriculture 10-02-2024  Adda 24*7
marketdetails-img

हर साल विश्व दलहन दिवस यानी दालों का दिन 10 फरवरी को मनाया जाता है। इस दिवस की शुरुआत वैश्विक स्तर पर दालों के महत्व और उसकी माध्यम से प्राप्त होने वाले पोषिक तत्वों को ध्यान में रखते हुए की गई थी। दालों का प्रयोग न केवल पोषण प्राप्त करने के लिए किया जाता है बल्कि इसके माध्यम से भूख मरी और गरीबी को मिटाने में भी सहायता मिल रही है, दालें सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि विदेशों में भी खानपान का जरूरी हिस्सा हैं। वेजिटेरियनस के लिए तो दालें ही प्रोटीन का सबसे बड़ा स्त्रोत हैं। विश्व दलहन दिवस स्थायी खाद्य उत्पादन के हिस्से के रूप में दालों के पोषण और पर्यावरणीय लाभों के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है।

Pulses world pulses day

Similar Posts


जल्द आ रहा है: राजस्थान में कृषि क्षेत्र के लिए एकीकृत ई-प्लेटफ़ॉर्म

अगर यह वैसा ही हुआ जैसा मुख्यमंत्री कह रहे हैं, तो मुझे लगता है कि किसानों को बहुत फायदा ह...


काबुली चने की कीमत रिकॉर्ड 150 रुपए प्रति किलो तक, निर्यात में बढ़ोतरी।

Kabuli Chana: देख में काबुली चना के उत्पादन में काफी तेजी आई है, भारत का काबुली चना का निर...


एफसीआई गेहूं नीलामी में उठान बढ़कर 96%, कुल बिक्री 80 लाख टन के पार।

कीमतें पिछले सप्ताह के स्तर के करीब स्थिर हैं क्योंकि खरीदारों ने प्रस्तावित 5 लाख टन में...


सैटेलाइट सर्वेक्षण का अनुमान है कि भारत में सरसों की फसल का रकबा 5% अधिक है।

आरएमएसआई क्रॉपलिटिक्स ने सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के लिए सर्वेक्षण किया।


Cost of production of sugar set to rise 4% after sugarcane FRP hike

Arguing that the cost of production of sugar may increase by 4 percent after the hike in f...


Farmers protest demanding higher prices for maize and moong crops

Farmers under the banner of Samyukta Kisan Morcha (SKM) organised a protest on Tuesday dem...


India approves export of broken rice to Senegal, Gambia and Indonesia

India has approved exports of broken rice to Senegal, Gambia, and Indonesia following a re...